MENU

लॉकडाउन में चौतरफा नुकसान हुआ व्यापारियों का: केशव जालान



 31/Jul/20

दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन ने रोजमर्रा की चीजों पर भी खासा असर डाला है। इससे जिधर भी देखें हर कोई परेशान नजर आ रहा हैं। इन्हीं सबकों लेकिन क्लाउन टाइम्स ने पूर्वांचल के बड़े व्यावसायी व जालान ग्रुप के चेयरमैन केशव जालान से संपर्क किया और व्यापार की स्थिति जाननी चाही तो उन्होंने बताया कि लाकडाउन में नुकसान तो चौतरफा हुआ है। व्यापारियों की स्थिति अस्त व्यस्त चल रहीं हैं। व्यापारियों की आर्थिक स्थिति आईसीयू और वैंटिलेटर पर है। हर परिस्तिथियों में व्यापारियों को ही झेलना पड़ता है। रतन टाटा ने कहा था कि वर्तमान वर्ष 2020 में प्लानिंग न करें जीवन को बचाये। श्री केशव जालान ने कहा कि बिहार, झारखंड, एमपी, छत्तीसगढ़ के व्यापारी आ नहीं रहे जिससे सेल हो नही रहीं पर खर्च जस का तस है। बिजली का बिल, बैंक का व्याज, स्टाफ खर्च, दुकान का रोज का खर्च। उसके बाद महामारी में लगन, ईद, नवरात्र, बकरीद, सावन, रक्षाबंधन सब चला गया। इतना होने के बाद भी नागरिकों की जरूरतों को पूरा कर रहें हैं। जब लाकडाउन चरम सीमा पर था तब आकर स्टाफ की सैलरी बाट रहें थे। उन्होंने कहा कि आगे के बारें में हम सोच नहीं रहे हैं और सबकों राय दे रहें हैं कि कोई प्लानिंग न करें पहलें कोरोना को खत्म होने दे फिर काम बढाने की सोचे। इस लिए पहलें कोरोना से मुक्ति मिले फिर व्यापार किया जाये। कहा कि स्थिति ऐसी बनीं हुई है कि पहलें हमें स्टाफ की चिंता थी, पर अब स्टाफ को हमारी चिंता है कि भाई जी का कैसे खर्चा चलेगा। जालान ने कहा कि तमाम कंपनियों ने काम न चलने के वजह से स्टाफो की छटइया की, परंतु हमनें स्टाफ को हटाने के बारें में कभी सोचा ही नहीं, बल्कि काम को बढ़ाया। कहां की अब हमनें बासंफाटक स्थित जालान सिंथेटिक्स के पिछे घुघरानी गली में डिपार्टमेंटल स्टोर खोला है जिसका नाम जालान इंम्पेक्स रखा है। इस दुकान में इलेक्ट्रॉनिक सामान से लेकर घर के अनेकों जरूरतों का सामान एक छत के निचे उपलब्ध हैं और लाकडाउन के वजह से घर से न निकलना पडे इस लिए होम डेलेवरी की सुविधा भी उपलब्ध है।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.