MENU

आचार्य सीताराम चतुर्वेदी का मनाया गया 110 वां जन्मदिवस



 28/Jan/21

हिंदी साहित्य पुरोधा भारतवर्ष के मुर्धन्य विद्वान एवं काशी हिंदू विश्वविद्यालय के संस्थापक पंडित मदन मोहन मालवीय जी के निजी सचिव तथा शिष्य आचार्य सीताराम चतुर्वेदी का 110 वां जन्मदिवस बुधवार को आचार्य सीताराम चतुर्थी महिला महाविद्यालय, डोमरी, रामनगर, बाल विद्यालय डोमरी एवं प्रह्ललादघाट में धूमधाम से मनाया गया।

सर्वप्रथम प्रबंधक डॉ जयशीला पांडेय, महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ विजय शंकर मिश्र तथा बाल विद्यालय डोमरी के प्रधानाचार्य मोहन लाल यादव द्वारा आचार्य जी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर आचार्य जी को नमन किया गया। संचालिका डॉ शीला पांडेय जी ने आचार्य जी की पुत्री एवं प्रबंधक होने के नाते अपने बचपन से लेकर अब तक आचार्य जी के संपूर्ण जीवन काल का संस्मरण बताया और कहा कि आचार्य जी ने हिंदी साहित्य, नाट्य शास्त्र एवं 16 वर्षों में परास्नातक डिग्रियां प्राप्त की। आचार्य जी ने विभिन्न विषयों में पुस्तकों का लेखन किया, जिसकी संख्या सैकड़ों के पार है तथा करीब 70 नाटकों एवं लेखन एवं मंचन किया। फिल्म जगत की मशहूर हस्ती स्वर्गीय श्री पृथ्वीराज कपूर जी ने आचार्य जी को रंगकर्मी का सम्मान प्रदान किया था। राज कपूर, लता मंगेशकर, पृथ्वीराज कपूर ऐसे उनके लोग जो कला से जुड़े हुए थे वे इनके सानिध्य में रहते थे। जब आप टीचर ट्रेनिंग कॉलेज में मालवीय जी के द्वारा प्रधानाचार्य नियुक्त किए गए थे तब श्री हरिवंश राय बच्चन जी को बीएड में प्रवेश दिलाने का कार्य आपके द्वारा किया गया।

कार्यक्रम में उप प्रबंधक मुकुल पांडेय ने आचार्य जी के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला तथा उनके साथ बिताए गए पलों को याद किया व भजन की गाया। बाल विद्यालय के प्रधानाचार्य मोहनलाल यादव आदि ने आचार्य जी के जीवन पर अपने विचार प्रकट किए। कार्यक्रम में महाविद्यालय की छात्राओं तथा बाल विद्यालय प्रह्ललादघाट तथा डोमरी की छात्राओं आदि द्वारा मनोहारी नृत्य, संगीत तथा भाषण प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम का संचालन महाविद्यालय की छात्राएँ शीतल सोनी बीकॉम प्रथम वर्ष एवं श्रेयसी सिंह बीएससी प्रथम वर्ष द्वारा किया गया। अंत में प्राचार्य डॉ विजय शंकर मिश्र द्वारा धन्यवाद ज्ञापन किया गया।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग