MENU

व्हील चेयर क्रिकेट प्रतियोगिता में दिव्यांगजनों ने जमकर लगाए चौके छक्के



 05/Mar/21

वाराणसी के इतिहास में प्रथम बार आयोजित व्हीलचेयर क्रिकेट प्रतियोगिता का आज भव्य उद्घाटन और समापन संपूर्णानंद स्टेडियम सिगरा में संपन्न हुआ अपने तरह के इस अनोखे प्रदर्शन में जहां दिव्यांग जनों ने अपनी अदम्य क्षमता का प्रदर्शन किया वहीं लोगों ने उनके साहस को देखते हुए दांतो तले उंगली दबा ली। व्हील चेयर पर रहते हुए बॉलिंग, फंडिंग, बैटिंग करना कितना कठिन है लेकिन आज काशी के लोगों ने देखा कि किस तरह से दिव्यांग क्रिकेटरों ने अपने अदम्य हौसले के बल पर उसे सिद्ध करके दिखा दिया। उत्तर प्रदेश दिव्यांग क्रिकेट एसोसिएशन के बैनर तले आयोजित इस प्रतियोगिता में संभव पैरा स्पोर्ट एकेडमी वाराणसी एवं किंग ऑफ मिर्जापुर की टीम ने हिस्सा लिया, टूर्नामेंट का उद्घाटन भाजपा काशी क्षेत्र के प्रभारी एवं कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक ने किया उद्घाटन अवसर पर उन्होंने कहा कि दिव्यांगता शरीर से होती है मन से लेकर व्यक्ति मानसिक स्थिति से मजबूत है तो शारीरिक क्षमता कोई मायने नहीं रखती आज काशी की धरती पर दिव्यांग जनों ने इतनी अच्छी क्रिकेट खेल कर मेरा दिल जीत लिया मैन को बधाई देता हूं किया इसी तरह आगे खेलते रहे उद्घाटन के अवसर पर जिला दिव्यांग अधिकारी राजेश मिश्रा जी ने कहा कि इस प्रकार की प्रतियोगिताएं जिले में कराई जाती रहेगीं, समारोह के विशिष्ट अतिथि पद्मश्री चल शेखर सिंह ने कहा कि मुझे आज देखकर प्रसन्नता हो रही है कि जो दिव्यांगजन अपने घरों में रहकर दूसरे पर आश्रित होकर अपना जीवन जीते थे वही आज समाज में आकर क्रिकेट का खेल खेल रहे हैं यह निश्चित रूप से सराहनीय प्रयास है भाजपा काशी क्षेत्र के महामंत्री अशोक चौरसिया जी ने उत्तर प्रदेश दिव्यांग क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों को बधाई देते हुए कहा की इस प्रकार के आयोजन हमेशा होते रहने चाहिए इससे समाज में जागरूकता बढ़ती रहेगी और दिव्यांग जनों का भी हौसला बढ़ेगा।
मैच में टॉस जीतकर किंग आफ मिर्जापुर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 16 ओवरों में 8 विकेट खोकर 154 रन बनाया जब कि संभव पैरा स्पोर्ट्स एकेडमी बनारस ने खेलते हुए 16 ओवरों में 3 विकेट पर 152 रन ही बना सकी। किंग आफ मिर्जापुर 2 रनों से विजयी रही। मैच में रिंकू शुक्ला ने सबसे अधिक 74 रन बनाए जबकि संभव पैरा स्पोर्ट्स एकेडमी बनारस के ही ललित पाठक ने सर्वाधिक 4 विकेट लिया। मैच के दौरान दिव्यांग जनों के उत्साहवर्धन के लिए मैदान में भारी संख्या में लोग उपस्थित होकर तालियों से उनका उत्साहवर्धन किया।
समापन समारोह कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एडिशनल कमिश्नर वाराणसी अजय सिंह ने विजेता व उपविजेता टीम को ट्राफी प्रदान कर सम्मानित किया उन्होंने इस अवसर पर कहा कि इस तरह के अनूठे प्रयास से दिव्यांग जनों को समाज के मुख्यधारा में लाने में सहयोग मिलेगा। डॉ उत्तम ओझा ने संबोधित करते हुए कहा कि इस तरह के प्रयास राष्ट्रीय स्तर पर भी किए जाएंगे ताकि संपूर्ण भारत में दिव्यांग जनों के प्रति लोगों में फैली भ्रांति को दूर किया जा सके। डॉ. संजय चौरसिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश दिव्यांग क्रिकेट एसोसिएशन इस आयोजन को राष्ट्रीय स्तर पर करने के लिए गंभीरता से विचार कर रही है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से व्हीलचेयर क्रिकेट प्रतियोगिता के संयोजक पंडित छोटे लाल पांडेय, सहसंयोजक भारत भूषण यादव, सुमित सिंह, डॉ मनोज तिवारी, श्याम लाल पटेल, रामनारायण, अर्पिता राय अरे महत्वपूर्ण भूमिका अदा की समय समारोह का संचालन सुमित सिंह एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ तुलसी ने किया


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग