MENU

बनारसी अल्हड़पन एवं लापरवाही करोना के प्रसार में मददगार :डॉ अमर अनुपम



 02/Apr/21

क्लाउन टाइम्स को शहर के विख्यात दंत चिकित्सक डॉ अमर अनुपम ने बताया की कि 2020 में लोगों के अंदर जो कोरोना वायरस का डर था, वो पता नहीं किस कारण से अब खत्म हो रहा है । जबकि 2020 में लगभग हर मोहल्ले में लोगों ने कोरोना की गंभीरता एवं उससे होने वाली मौतों को अपनी आंखों से देखा है। डॉ अमर अनुपम ने कहा कि उनकी समझ से परे हैं कि क्यों लोग इसके प्रति आज लापरवाही बरत रहे हैं बनारस वैसे तो अपने अल्हड़पन के लिए विख्यात है लेकिन यही अल्हड़पन और लापरवाही कहीं जानलेवा न साबित हो जाये। सरकार ने नारा दिया है कि

*2 गज दूरी,मास्क है जरूरी* इस नारे को हर चौराहे पर प्रसारित किया जा रहा है। रेडियो एवं मोबाइल के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। किंतु लोगों द्वारा इसका पालन ना करने से स्थिति भयावह हो सकती है पिछले दिनों प्रशासन ने बिना मास्क के चलने वालों पर सख्ती बरती है एवं जुर्माना भी लगाया है। एक कहावत है कि भय बिन होय न प्रीत। लेकिन फिर भी लोग इसके प्रति उदासीन हैं आज देखा जा रहा है कि वैक्सीन लेने के बावजूद कुछ लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो जा रहे हैं। इसका कारण दिन प्रतिदिन कोरोनावायरस का बदलता हुआ स्वरूप है। इसलिए इसके प्रति लोगों को जागरूक होना चाहिए। एवं आगे बढ़ कर के टीकाकरण करवाना चाहिए। सरकार के द्वारा 45 के ऊपर की उम्र के लोगों को फ्री वैक्सीन देने की सुविधा का उन्होने स्वागत किया है कि यह बहुत ही अच्छा निर्णय है। इससे कोरोना की रोकथाम में मदद मिलेगी उन्होंने कहा कि बनारस के शत प्रतिशत चिकित्सक अभी वैक्सीनेटेड नहीं हैं। पता नहीं क्यों वैक्सीन के प्रति उनके मन में संदेह है, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है। आज स्थिति पहले से भी ज्यादा खतरनाक है कारण यह हैं कि कोरोनावायरस का नया-नया स्ट्रेन देखने को मिल रहा है। लोगों को अपना और अपने परिवार का टीकाकरण अवश्य करवाना चाहिये।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग