MENU

विगड़ी हुयी शैक्षणिक व्‍यवस्‍था संभालने में शिक्षक समुदाय की महती भूमिका : बाबा प्रकाशध्‍यानानन्‍द



 06/Sep/21

कोरोना काल की कठिन परिस्थितियों में बेपटरी हो गयी। छात्र की रेल को बड़े ही सलीके पटरी पर लाकर दौड़ाने का कार्य शिक्षक समुदाय ने किया। जिससे इनकी महती भूमिका परिलक्षित होती है। यह उद्गार स्‍वामी हरसेवानन्‍द पब्लिक स्‍कूल के प्रबन्‍धक बाबा प्रकाशध्‍यानानन्‍द ने व्‍यक्‍त किया। यह मौका था शिक्षक-दिवस समारोह का।

समारोह की शुरूआत स्‍वामी हरसेवानन्‍द पब्लिक स्‍कूल बनपुरवां के प्रांगण में शिक्षाविद डॉ.सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन के चित्र पर माल्‍यार्पण व दीप प्रज्‍जवलन से हुई। इन विपरीत परिस्थितियों में शिक्षक सम्‍मान समारोह का आयोजन कर विद्यालय प्रबन्‍धन ने एक नई ऊर्जा का संचार किया। उक्‍त कार्यक्रम में सभी शाखाओं के शिक्षक, शिक्षका व शिक्षणेत्‍तर कर्मचारी शामिल होकर आयोजन का लुत्‍फ उठाते नजर आये। प्रबन्‍धन की ओर से आमंत्रित सभी शिक्षक, शिक्षिका व शिक्षणेत्‍तर कर्मचारियों को पुष्‍पाहार अंगवस्‍त्रम व उपहार देकर सम्‍मानित किया गया। इस अवसर पर वाराणसी मीरजापुर, सोनभद्र की सभी शाखाओं से आये लगभग 250 शिक्षकों के समूह को सम्‍मानित कर उन्‍हें सम्‍बोधित करते हुए प्रबन्‍धक बाबा प्रकाशध्‍यानानन्‍द ने कहा कि विगत 2 वर्षों से आयी शैक्षणिक जगत की खामोशी को तोड़कर और भारत को विश्‍वगुरू बनाने की दिशा में शिक्षकों को पहल करनी होगी।

इस अवसर पर विद्यालय समूह के प्रधानाचार्यगण सीएस सिंह, डॉ.ए.के. चौबे,चौबे,रचना अग्रवाल, डॉ.सन्‍तोष कुमार चौबे, अशोक कुमार वर्मा, नीरज श्रीवास्‍तव उपप्रधानाचार्या, अमित सिंह व सहित सभी शिक्षक,शिक्षिक व शिक्षणेत्‍तर कर्मचारी उपस्थित रहे। स्‍वागत भाषण बनपुरवां शाखा के प्राचार्य डॉ.अजय कुमार चौबे, कार्यक्रम का संचालन मिर्जा विलायत वख्‍त तथा धन्‍यवाद ज्ञापन छात्रावास अधीक्षक यादन ने किया।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग