MENU

सनबीम वीमेन्स कालेज वरूणा में एन.एस.एस. ने ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव’’ किया आयोजन



 01/Oct/21

सनबीम वीमेन्स कालेज वरूणा के प्रांगण में राष्ट्रीय सेवा योजना की ईकाई द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर आयोजन करना आजादी का अमृत महोत्सवबड़े ही हर्ष व उल्लास के साथ मनाया गया। यह आयोजन पूरे एक सप्ताह चला जिसमें महाविद्यालय की स्वयंसेविकाओं द्वारा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये गये। प्रथम दिन पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता आयोजित की गई जिसमें महाविद्यालय की छात्राओं ने आजादी के दिनों की याद दिला दी, एक से बढ़कर एक पोस्टर छात्राओं द्वारा बनाये गये जिसमें आजादी की झलक व संघर्ष स्पष्ट रूप से देखा जा सकता था। जिन छात्राओं ने पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता में स्थान प्राप्त किया वे इस प्रकार हैं- सीमा सिंह, बी.काम दि्वतीय वर्ष प्रथम स्थान, श्रुति कुशवाहा, बी.काम. दि्वतीय वर्ष, दि्वतीय स्थान, शिवांगी कुमारी बी.काम. तृतीय वर्ष ने तृतीय स्थान एवं वैष्णवी जयसवाल, बी.बी.ए. तृतीय सेम सांत्वना पुरस्कार प्रदान किया गया। आयोजन के दूसरे दिन अकांक्षा, नव्या, तनिषा, पूजा एवं रोशनी ने मतदाता जागरूकता रैली निकाली तथा लोगों का यह समझाने का प्रयास किया कि मत का प्रयोग हमारे विकास और देश की उन्नति के लिए कितना आवश्यक है अगर हम भारत के नागरिक हैं तो हमें अपने मत का प्रयोग अवश्य करना चाहिए। इसके पश्चात रन फॅार फिट इण्डियाका कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें राशि एवं अनामिका ने अपनी प्रतिभागिता दी। जिसका उद्देश्य स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता था, क्योंकि जब हम तन मन से स्वस्थ होंगे तभी देश प्रगति के पथ पर अग्रसर हो। इन कार्यक्रमों के अतिरिक्त छात्राओं के लिए व्याख्यान का आयोजन भी किया गया। जिसमें काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इतिहास विभाग की प्रवक्ता डॉ.सीमा मिश्रा, जिन्होंने काशी की स्वतन्त्रता आंदोलन में भूमिका पर चर्चा की तथा यह बताने का प्रयास किया कि काशी जितना धार्मिक मान्यताओं के लिए प्रसिद्ध है उतना ही स्वतन्त्रता आन्दोलन में भाग लेने के लिए भी। उदय प्रताप महाविद्यालय की प्रवक्ता डॉ.अलका गुप्ता ने अनिश्चितता के दौर में आजादी के महत्व पर व्याख्यान देते हुए छात्राओं के इस आजादी का मतलब भी बताया और इसे प्राप्त करने के लिए जो खून की नदियां बही उस संघर्ष को भी याद दिलाया। इसके साथ ही साथ आज प्रेस के पूर्व संपादक कृष्ण देव राय ने स्वतन्त्रता संग्राम में पत्रकारिता के योगदान के बारे में छात्राओं को अवगत कराते हुए यह बताया कि स्वतन्त्रता संग्राम में किस तरह पत्रकारिता ने जन समुदाय को जागरूक कर आजादी के आन्दोलनों से जोड़ने का प्रयास किया। राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा आयोजित इन कार्यक्रमों का संचालन कार्यक्रम अधिकारी डॉ.मनीषा सिंह ने किया।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग