MENU

बनारस में स्पा पार्लर के नाम पर अंदर हो रहा है अश्लील धंधा ?



 24/Jun/18

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही यह खबर अगर वास्तव में सच है तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संसदीय क्षेत्र बनारस क्या वास्तव “स्मार्ट हो रहा है और बदल रहा है बनारस”

आप भी पूरी खबर देखिये, पढ़िए और सोचिये कि तीनों लोकों से न्यारी काशी में कथित आधुनिकता के नाम पर ये क्या हो रहा है?

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के रथयात्रा स्थित कुबेर काम्प्लेक्स में इसकी सरहद को अगर आप नजर दौड़ाएं तो स्पा, जिन्हें मसाज पार्लर भी कहा जाता है, आपको कुकुरमुत्ते की तरह चारों ओर फैले हुए नजर आएंगे। बेहद सामान्य डिस्पले बोर्ड के साथ ये स्पा यानी मसाज पार्लर अंदर से इतने सामान्य नहीं होते, जितने आपको बाहर से नजर आते हैं। स्पा के अंदर की दुनिया इतनी रंगीन होती है कि आप अंदाजा लगाना तो दूर, सोच भी नहीं सकते। बॉडी मसाज देने के नाम पर इन स्पा में जिस्म फरोशी का वो खेल होता है, जिसकी कल्पना करना भी नामुमकिन है।

एंट्री के रेट 800 से 1000 तक

स्पा के अंदर की हकीकत का राज जानने के लिए हमारे एक रिपोर्टर ने नकली ग्राहक बनकर एनसीआर के एक मसाज पार्लर में एंट्री की और अंदर के वो राज जाने, जो बाहर से नजर नहीं आते। स्पा में एंट्री करते ही सबसे पहले हमारे रिपोर्टर का सामना होता है, रिेसेप्शन पर बैठी एक खूबसूरत लड़की से, जो वेलकम करने के साथ ही स्पा के रेट बताती है। मसाज के रेट, जिसे आप स्पा रूम में एंट्री के रेट भी कह सकते है, 800 से 1000 रुपए तक होते हैं। हमारे रिपोर्टर ने जैसे ही एंट्री फीस दी, उसे एक स्टाफ ब्वॉय के साथ अंदर बने रूम में भेज दिया गया।

कैसा था अंदर से स्पा का रूम

रूम में बाकायदा एक 6 फीट लंबा और करीब 3 फीट चौड़ा बिस्तर था, जिसपर गद्दे और चादर के ऊपर एक सफेद रंग की शीट बिछी हुई थी, ये शीट बिल्कुल वैसी ही थी, जैसा एक सामान्य टिशू पेपर होता है, यानी वन टाइम यूज वाला। रूम के एक कोने में बेहद छोटा सा शीशे की दीवारों वाला बॉथरूम था, जिसमें शावर लगा हुआ था। बेहद डिम लाइट में हमारा रिपोर्टर कुछ और देख पाता, उससे पहले ही एक लड़की ने दरवाजा खटखटाकर एंट्री की। हाथ में ऑयल, क्रीम की ट्रे लिए लड़की ने हाय-हेलो के साथ ही कहा कि सर चेंज कर लीजिए।

अरे सर इतना क्यों शर्मा रहे हैं

चेंज करने से मतलब था कि आप अपने सारे कपड़े (अंडर गार्मेंट्स तक) उतारकर एक ऐसा अंडरवियर पहने लें, जो वन टाइम यूज था। हमारे रिपोर्टर ने हमें बताया कि जब उसने कहा कि वो उसके सामने कपड़े कैसे उतारे तो उस लड़की ने कहा, 'अरे सर इतना क्यों शर्मा रहे हैं, अच्छा चलिए मैं मुंह उधर कर लेती हूं...', लड़की ने अपना चेहरा दूसरी तरफ किया और हमारे रिपोर्टर ने उसके कहे मुताबिक अपने कपड़े उतारकर वो वन टाइम यूज वाला अंडरवियर पहन लिया। इसके बाद मसाज के नाम पर इधर-उधर हाथ लगाने के बाद उस लड़की ने बात को दूसरी तरफ मोड़ दिया।

 

स्पा में किस काम के कितने रेट

हमारे रिपोर्टर ने बताया कि वो लड़की धीरे-धीरे स्पा के अंदर की रेट लिस्ट सामने रखनी लगी। लड़की- 'सर बताइए क्या करवाना चाहेंगे...। रिपोर्टर- मैं तो मसाज कराने ही आया हूं। लड़की- सर वो तो हो जाएगी, उसके अलावा क्या कराएंगे, मतलब कुछ एक्स्ट्रा। रिपोर्टर- एक्स्ट्रा मतलब, मैं तो यार पहली बार आया हूं, कुछ पता नहीं, आप बताइए ना। लड़की- ठीक है सर, मैं बताती हूं, देखिए सर अगर फुल सर्विस चाहिए तो 3000 रुपए, बी-टू-बी लेंगे तो 2000 रुपए और अगर सिर्फ हैंड जॉब चाहिए तो 1000 रुपए।

हर कोड वर्ड का बताया मतलब

इस सबका अंदेशा हमारे रिपोर्टर को था, लेकिन वो फिर भी अनजान बना रहा। हमारे रिपोर्टर ने इन सबका मतलब जानना चाहा तो उस लड़की ने कुछ इस तरह बताया। लड़की- सर अगर फुल सर्विस चाहिए, यानी सेक्स, टचिंग वैगरह सब तो 3000, बी-टू-बी यानी बॉडी टू बॉडी तो मतलब मैं न्यूड होकर आपको मसाज दूंगी, आप कहीं भी केवल टच कर सकते हैं और अगर हैंड जॉब चाहिए तो केवल मास्टरबेट। हमारा रिपोर्टर ये सब सुन रहा था और अंदाजा लगा रहा था कि आखिर ये स्पा इतनी बड़ी संख्या में वाराणसी में क्यों फैल रहे हैं। इसके बाद हमारा रिपोर्टर फोन आने का बहाना कर स्पा से बाहर निकल आया।

यह कहानी वाराणसी के रथयात्रा स्थित कुबेर काम्प्लेक्स के स्पा की है, जहां हमारे रिपोर्टर ने जाकर पड़ताल की, इसका यह बिल्कुल मतलब नहीं कि हर स्पा पार्लर में यह सब होता है।

इस खबर में यदि वास्तव में सच्चाई है तो यह बनारस में कानून के रखवालों के लिए जाँच का विषय है, अन्यथा किसी की कोरी कल्पना है तो भी इसकी जाँच होनी चाहिए|

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment