MENU

मोदी विरोधी पुण्ये प्रसून बाजपेयी को पं. कमलापति त्रिपाठी फाउंडेशन देगा 1 लाख : राजेशपति त्रिपाठी



 12/Sep/18

वाराणसी पं. कमलापति त्रिपाठी फाउंडेशन मोदी विरोधी पत्रकार पुण्य प्रसून वाजपेयी को एक लाख रूपये से स्थापित सम्मान - धनराशि और अभिनंदन करने जा रही है। यह फाउंडेशन का तीसरा अभिनंदन समारोह है । इसके पुर्व मृणाल पाण्‍डेय व विनोद दुआ को इस सम्‍मान से सम्‍मानित किया जा चुका है।

यह जानकारी पं. कमलापति त्रिपाठी फाउंडेशन के अध्यक्ष राजेशपति त्रिपाठी व फाउंडेशन के महामंत्री सतीश चौबे ने वाराणसी के इंगलिशियालाईन स्थित कांग्रेस कार्यालय पर पत्रकार वार्ता के दौरान दी ।

अब यहां सवाल यह है कि राष्ट्रीय हिंदी पत्रकारिता सम्मान पुण्य प्रसून वाजपेयी जैसे पत्रकार को ही क्यों दिया जा रहा है ? और क्या वहीं इस पुरस्कार के लिए इस वर्ष अंतिम पात्र रहे ? क्‍या प्रसून का मोदी विरोधी होना चयनित होने की पात्रता है ?  इस बात पर एक पत्रकार होने के नाते यह सवाल जेहन में जरूर कौंध गया कि क्या कांग्रेस पार्टी से जुड़े राजेशपति त्रिपाठी सिर्फ इसलिए ही तो इन्हें सम्मानित नहीं कर रहे कि, इन्होंने आजतक और उसके पश्चात स्टार न्यूज में रहते हुए मोदी जी के खिलाफ मीडिया हाउस में मोर्चेबंदी की थी ? जिसका खमियाजा पुण्य प्रसून वाजपेयी को मीडिया चैनल ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया था । हालांकि मीडिया चैनल के इस कृत्य का मैं समर्थन नहीं कर रहा हूं, क्योंकि इनके मास्टार स्टोक ने पीएम मोदी सहित पूरी भाजपा की नींद उड़ा दिया था। चूंकि इन्होंने केवल केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चेबंदी की थी इसीलिये बनारस कांग्रेस के औरंगाबाद हाउस ने "पं. कमलापति त्रिपाठी फाउंडेशन" से दिल्ली के पत्राकार श्री बाजपेयी को 1 लाख रूपये का सम्मान देकर अपनी राजनीतिक धार तेज करना मात्र दिख रहा है। पूर्व के वर्षों में भी क्रमश: मृणाल पाण्‍डेय और विनोद दुआ को इसी सम्‍मान से सम्‍मानित करना इस बात की गवाही है की कांग्रेसियों की नजर में भाजपा विरोधी पत्रकारों को ही राष्ट्रीय स्‍तर के पत्रकार होने का पैमाना माना जा सकता है ।

बताते चलें की बनारस सम्‍पादकाचार्य पराणकर जी और पं. कमलापति त्रि‍पाठी की नगरी रही है। अगर पत्रकारिता के क्ष्‍ोत्र में योगदान की बात की जाय तो यहॉ पर दर्जनों ऐसे पत्रकारों की फेहरिस्‍त्‍ है जिनमें अमिताभ भट्टाचार्या, फोटो पत्रकार विजय सिंह आदि‍ ऐसे नाम हैं जिन्‍होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में इतिहास रचा है।

ताजा मामला फोटों पत्रकार विजय सिंह का है जिन्‍होंने लगभग 35 वर्षों से भी अधिक समय से फोटो पत्रकारिता के क्ष्‍ोत्र में दैनिक जागरण वाराणसी के लिए गोली खाने के बाद जब उन्‍हें समाचार पत्र ने बाहर का रास्‍ता दिखाया तो वे दो जून की रोटी और दवा के लिए मोहताज हो गए हैं।

अगर पत्रकारिता के क्षेत्र में किसी क्रांती के चलते पुण्य प्रसून वाजपेयी को सर्व सुविधा सम्‍पन्‍न होने के बाद भी 1 लाख रूपये का सम्‍मान दिया जा रहा है तो उनकी तुलना में फोटो पत्रकारिता के क्षेत्र में विजय सिंह के योग दान और क्रांती की तुलना की जाय तो वे किसी भी मामले में कम नहीं हैं। रही बात आर्थिक रूप से सम्‍मानि‍त करने की तो विजय सिंह को उनकी मुशीबत को देखते हुए बनारस के तमाम सामाजिक सरोकार से जुड़े हुए लोगों ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया। वह तो भला हो वाराणसी प्रेस क्लब के महामंत्री अशोक कुमार मिश्र की पहल पर क्लाउन टाइम्स ने विजय सिंह की मुशीबत से जुड़ी खबरों प्रसारित और प्रकाशित करने के साथ ठोस पहल किया जिससे विजय सिंह व उनकी पत्नी के लिए दो जून की रोटी तथा दवा इलाज की शुरूआत हो चुकी है ।

हमें उम्‍मीद है जिस प्रकार करोड़पति फिल्‍मी सितारों को किसी संस्‍था द्वारा मदद मिलने पर उसे किसी भी आर्थिक रूप से कमजोर की सहायता के लिए चैरिटी के माध्‍यम से खर्च करते हैं। अगर ऐसी ही चैरिटी पुण्य प्रसून वाजपेयी विजय सिंह के लिए करें तो लगेगा कि‍ उन्‍होंने बड़ी लकीर खींची है।

आश्चर्य तब होता है जब पत्रकारों को सम्मानित करने वाला यह फाउंडेशन विजय सिंह जैसे

जूझारू फोटो पत्रकार को संम्मान के लिए नहीं चुनता जब की बनारस का ऐसा कोई कांग्रेसी नहीं होगा जो उनकी मुसीबत से वाकिफ न हो।

 

वाराणसी प्रेस क्‍लब की पहल पर अब स्थानीय पत्रकारों को भी फाउंडेशन देगी मदद : सतीश चौबे, फाउंडेशन के महामंत्री

 

प्रेस वार्ता के दौरान वाराणसी प्रेस क्लब के मंत्री संजय कुमार मिश्र ने जब पं. कमलापति त्रिपाठी फाउंडेशन के अध्यक्ष से वाराणसी में स्थापित फाउंडेशन के अध्यक्ष राजेशपति त्रिपाठी से स्थानीय पत्रकारों जैसे फोटोपत्रकार स्‍व. मंसूर आलम तथा वर्तमान में दैनिक जागरण से पदमुक्त विजय सिंह जैसे लोगों के आर्थिक मदद का मामला उठाया जिसे अध्यक्ष राजेशपति त्रिपाठी व महामंत्री सतीश चौबे ने यह आश्वासन दिया कि इस वर्ष 14 सितंबर 2018 ऋषि‍पंचमी के दिन पं. कमलापति त्रिपाठी जयंती के अवसर पर आयोजीत नागरी नाटक मंडली में राष्ट्रीय पत्रकारिता सम्मान के अवसर पर वाराणसी के ऐसे आर्थिक रूप से कमजोर और लाचार पत्रकारों को तत्काल मदद के लिए फाउंडेशन 50 हजार रूपये आर्थिक मदद देने की घोषणा की जाएगी ।

पं. कमलापति त्रिपाठी जयन्ती समारोह के मुख्‍य अतिथि पुण्य प्रसून वाजपेयी तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता लखनऊ विश्‍वविद्यालय के पूर्व आचार्य व राजनीत विज्ञानी और विशिष्ट अतिथि पूर्व विधायक नदीम जावेद तथा अ.भा. कांग्रेस कमेटी के सचिव राणा गोस्‍वामी होंगे।

इस अवसर पर पं. कमलापति त्रिपाठी के व्यक्तित्व पर एक लघु पुस्तिका का प्रकाशन भी किया जाएगा ।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment