MENU

आयुष्मान भारत के तहत हुआ ब्रेथ ईजी अस्पताल में सांस के मरीज का नि:शुल्क इलाज

दिनेश मिश्रा

 27/Dec/18

ब्रेथ ईजी टीबी, चेस्ट, एलर्जी केयर अस्पताल, अस्सी, वाराणसी को पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दुनिया की सबसे बड़ी योजना आयुष्मान भारत के अंतर्गत सूचीबद्ध किया गया। ब्रेथ ईजी पूर्वांचल का इकलौता चेस्ट केयर अस्पताल है, जिसे आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत सूचीबद्ध किया गया है। इस योजना के अंतर्गत मरीज पांच लाख तक का चिकित्सकीय इलाज विश्वस्तरीय पद्धति द्वारा ब्रेथ ईजी में नि:शुल्क प्राप्त कर सकता है। जिसके अंतर्गत अस्थमा, सीओपीडी, टीबी, निमोनिया, खर्राटा आदि बिमारियों के इलाज के साथ-साथ अन्य जांच भी सम्मिलित हैं।

आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने पिछले दिनों ब्रेथ ईजी ने बिरदोपुर, महमूरगंज निवासी गीता देवी उम्र 50 वर्ष जो कि पेशे से सब्जी विक्रेता हैं। इनको पिछले 20 वर्षों से सांस की समस्या थी जो इनके रोजमर्रा के कामों में अवरोध पैदा कर रही थी। पैसों की वजह से इनका इलाज ठीक से नहीं हो पा रहा था। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत विश्वस्तरीय पद्धति द्वारा ब्रेथ ईजी टीबी चेस्ट एलर्जी केयर अस्पताल में इनका इलाज हो रहा है और मरीज गीता देवी को पहले से अब काफी आराम हो रहा है। उनकी सांस की बीमारी अब कंट्रोल में है। हॉस्पिटल के निदेशक डॉ. एस के पाठक ने आयुष्मान योजना को गरीबों के लिए वरदान बताया जहां मरीज आयुष्मान भारत का गोल्डन कार्ड अथवा प्रधानमंत्री द्वारा मिले पत्र के माध्यम से आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठा सकता है, जिससे मरीज 5 लाख तक का चिकित्सकीय इलाज विश्वस्तरीय पद्धति द्वारा ब्रेथ ईजी में नि:शुल्क प्राप्त कर सकता है।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment