MENU

नकली शराब बनाने की फैक्ट्री पर छापा 6अभियुक्त गिरफ्तार



 23/May/19

वाराणसी दिनांक 20 फरवरी 2019 को नकली शराब बनाने की अवैध फैक्ट्री के साथ छह अभियुक्त को गिरफ्तार करने में पुलिस ने बड़ी सफलता पाई।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वाराणसी द्वारा चलाए जा रहे अवैध शराब के निर्माण बिक्री व तस्करों के खिलाफ अभियान में उस समय बड़ी सफलता प्राप्त हुई जब बड़ा गांव में क्राइम ब्रांच के प्रभारी विक्रम सिंह को मुखबिर के जरिए सूचना मिली कि बड़ा गांव क्षेत्र में अवैध शराब कारोबारी शिव शंकर सेठ उर्फ बाबु सेठ अपना अवैध शराब का धंधा मंजय पासी के घर से कर रहा है और वहीं पर देशी व अंग्रेजी शराब का निर्माण भी कर रहा है। साथ ही यहीं से अन्य ठेकों पर, अड्डों पर सप्लाई करता है। सूचना के अनुसार ऐसे ही अवैध शराब की खेप मंजय पासी के घर से स्कॉर्पियो गाड़ी से सप्लाई करने के फिराक में तस्‍कर हैं। इस सूचना पर कार्यवाही करते हुए क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस ने बताए गए पते पर पहुंच कर यहां एक व्यक्ति स्कॉर्पियो में बैठा देखा जो पुलिस को देखते ही भाग गया जब पुलिस दल ने मंजय पासी के घर पर अंदर पहुंची तो घर के अंदर 6 व्यक्ति देसी और विदेशी नकली अप मिश्रित शराब बना रहे थे। मौके से सभी को गिरफ्तार करते हुए भारी मात्रा में निर्मित अर्ध निर्मित शराब, खाली बोतल, ढक्कन, सरकारी होलोग्राम, स्टीकर, इथाईल अल्कोहल बरामद किया। स्कॉर्पियो में रखी दो पेटी रॉयल स्टैग नकली शराब, 6 देसी शराब नकली व केमिकल से भरी 40-40 लीटर की 4 पिपिया बरामद किया। यह जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के द्वारा दी। पूछताछ के क्रम में अभियुक्त ने बताया कि हम लोग बाबु सेठ व सोनू सेठ के लिए काम करते हैं नकली शराब बनाने में प्रयुक्त होने वाले इथाईल अल्कोहल मध्य प्रदेश से मंगवाते हैं, यहां तैयार नकली शराब को अपने परिजनों के सरकारी देशी व अंग्रेजी शराब के ठेकों पर सप्लाई करते हैं। इसके अलावा स्कॉर्पियो गाड़ी के जरिए गाजीपुर, चन्दौली, आजमगढ़, जौनपुर आदि जनपदों के साथ बिहार राज्य तक सप्लाई करते थे। उन्होंने बताया कि एक शीशी शराब तैयार करने में 20 रूपये लागत आती है जबकि इसको बाजार में 65 रूपये में बेचा जाता था। पकड़े गए अभियुक्तों में सोनू सेठ उर्फ पांडु पुत्र रामजी सेठ बड़ागांव, दिनेश अग्रहरि पुत्र स्वर्गीय केदार नाथ अग्रहरि निवासी गोला बाजार बड़ागांव, ओमप्रकाश सेठ पुत्र सुरेंद्र प्रसाद सेठ निवासी गौरा कला थाना चौबेपुर, प्रमोद तिवारी पुत्र जयनाथ तिवारी निवासी पिपरी थाना चन्दौली, बृजेश सेठ पुत्र रमेश निवासी नेवादा फूलपुर, रणजीत सेठ पुत्र विन्‍ध्‍याचल सेठ निवासी हंसराजपुर थाना शादियाबाद गाजीपुर है। दो अभियुक्त रविशंकर बाबु सेठ निवासी बड़ा गांव, मंजय पासवान निवासी बसनी बड़ागांव मौके से फरार हो गए।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.