MENU

पूर्वांचल का एक ऐसा भी है बाहुबली क्षत्रिय नेता जो बिना प्रदर्शन किये, बटवा रहे गरीबों में राहत सामग्री



 16/Apr/20

 

क्लाउन टाइम्स द्वारा पूछें जानें पर कहा, फोटो खिंचा कर किसी गरीब का मजाक नहीं उड़ान चाहता

मिर्जापुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल7 डिस्टेंस बनाने के लिए पहले चरण में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू किया था। लेकिन मरीज बढ़ने के कारण फिर प्रधानमंत्री ने 19 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया है। लाॅकडाउन के दूसरे चरण में भी तमाम दिक्कतों का सामना गरीब व दिहाड़ी मजदूरों को हो रहीं हैं। हालांकि उनकों किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो इसके लिए जिला प्रशासन व समाजसेवी संस्था हर संभव मदद कर रहीं हैं। वहीं कुछ ऐसी भी संस्था है जो इस परिस्तिथि में राहत सामग्री देकर फोटो खिंचा कर सोशल नेटवर्किंग साइट पर प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं जो बिना फोटो- बिना प्रदर्शन किये हर संभव मदद कर रहें हैं। ऐसा ही मिर्जापुर जनपद में देखने को मिला। मिर्जापुर में कुछ लोगों को देखा गया कि लॉकडाउन प्रथम व लॉकडाउन द्वितीय में बिना फोटो के लगातार राहत सामग्री वितरण कर रहे हैं। पुछे जानें पर वितरण कर रहे लोगों ने बताया कि भैय्या ने मना किया है फोटो लगाने के लिए। जब उनलोगों से भैय्या के बारें में पुछा गया तो उन्होंने कहा कि मिर्जापुर/ सोनभद्र के पूर्व एमएलसी विनीत सिंह हैं। इनके ही निर्देश पर अनवरत 500 भोजन पैकेट बाटा जा रहा है।

क्लाउन टाइम्स ने जब बाहुबली पूर्व एमएलसी विनीत सिंह से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि यें मानव सेवा है। मैंने अपने सभी लोगों को मना कर रखा है कि किसी जरूरतमंद को राहत सामग्री देतें वक्त फोटो खिंचा कर प्रदर्शन नहीं करना है। उन्होंने कहा कि देनें वाला तो बहुत शान से देकर फोटो खिंचा कर सोशल साइट्स पर अपलोड कर देता है। पर जो गरीब, जरूरतमंद होतें है उन पर क्या गुजरती होगीं किसी ने सोचा। उन्होंने कहा कि मै भी इसी मिट्टी का बना हूँ। भारत माँ की सेवा करना मेरा कर्तव्य है। जब तक तक लाॅकडाउन चलेगा किसी गरीब को भूखा सोने नहीं दूंगा। उन्होंने कहा कि अगर लाॅकडाउन के वजह से और भी कोई ऐसा हो जो आर्थिक रूप से कमजोर हो वह हमसे मिल सकता है। मैं उनकी जान व पहचान और मान सम्मान को गुप्त रखतें हुए हर संभव मदद करेगें।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.