MENU

दैनिक जागरण के सफेद बाल वाले वरिष्ठ फोटोग्राफर विजय सिंह अब नहीं रहे



 21/Apr/21

विजय सिंह के आकस्मिक निधन से फोटो पत्रकारिता के क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है जिसे पूरा नहीं किया जा सकता

विजय सिंह अपने पीछे बीमार विधवा पत्नी से भरा पूरा परिवार छोड़ कर गए हैं। लेकिन दु:ख की बात है कि कलयुगी बेटे और बहू उनकी सारी पूजी उनके जीतेजी समाप्त कर चुके हैं, अब बेसहारा पत्नी सरोज सिंह को काशी की जनता से फिर एक बार मदद का इंतजार है।

क्लाउन टाइम्स और वाराणसी प्रेस क्लब अध्यक्ष राजेश गुप्ता और महामंत्री अशोक मिश्र 'क्लाउन' एक बार फिर से वाराणसी के जनप्रतिनिधियों, राजनेताओं, पूजीपतियों काशी वासियों से मदद की गुहार लगा रहा है कि वह यथासंभव प्रेस फोटोग्राफर विजय सिंह की विधवा पत्नी की मदद के लिए आगे आए वरना उन्हें बीमार हालत में एक-एक दाने के लिए तड़पकर मरने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।


क्लाउन टाइम्स और वाराणसी प्रेस क्लब के महामंत्री अशोक मिश्र 'क्लाउन' की पहल पर हुई थी मदद

बताते चलें कि दैनिक जागरण के लिए गोली खाने वाले प्रेस फोटोग्राफर विजय सिंह इन दिनों दो जून की रोटी और दवा के लिए तड़प रहे थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में विगत तीन दशकों तक विजय सिंह को सफेद बाल वाले फोटोग्राफरने दैनिक जागरण के वाराणसी संस्करण में फोटोग्राफर रहे, उसी दौरान उन्होंने अपने समाचार पत्र के लिए गंगा पैलेस सिनेमाहाल ने लगी अश्लील फिल्म का विरोध करने वालों की फोटोग्राफी करते हुए गोली खाई थी तो शायद उन्हें यकीन रहा होगा कि उनका भविष्य उनके अखबार के साथ पूरी तरह सुरक्षित है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ, बल्कि जागरण प्रबंधन ने उन्हें दूध में मक्खी की तरह निकाल कर बाहर फेंक दिया।

ये वही विजय सिंह थे जिन्होंने दैनिक जागरण अखबार के लिए जाड़ा, गर्मी, बरसात, दंगा, फसाद, लाठी, गोली की तस्वीर कैद करने के लिए अपनी जान की बाजी कई बार लगाई थी पर नौकरी जाने के बाद अपने पिशाचमोचन, लहुराबीर के टूटे-फूटे छोटे से कमरे में बीमार पत्नी जिनकी कूल्हे की हड्डी टूट चुकी है, उन्हीं के साथ दो जून की रोटी के लिए तड़प-तड़प कर बदतर जिंदगी जीने को मजबूर थे।

वर्ष 2018 में एक दिन अचानक क्लाउन टाइम्स के प्रधान संपादक व वाराणसी प्रेस क्लब के महामंत्री अशोक मिश्र ' क्लाउन ' विजय सिंह के पिशाचमोचन स्थित आवास पर पहुंचे तो देखा कि फोटोग्राफर विजय सिंह को भी लकवा मार दिया है, जिसके चलते वे कोई कार्य करने लायक नहीं थे । कलयुगी बेटे-बहू ने भी इस लाचार दंपति की पूरी पूंजी लेकर उन्हें कंगाल कर दिया था। फोटोग्राफर विजय सिंह अपनी लाचार पत्नी के साथ दो जून की रोटी और दवा के लिए बिस्तर पर पड़े खून के आंसू रोते कहा कि अपने उन्हें जीने की तमन्ना नहीं है । उनका यह करुण क्रंदन सुनकर क्लाउन टाइम्स के प्रधान संपादक ने उसी पल फैसला किया कि अपने पुराने साथी (क्लाउन और विजय सिंह ) की मदद में आगे आना होगा। इस मुहिम में वाराणसी प्रेस क्लब के निवर्तमान अध्यक्ष महेश खन्ना और महामंत्री अशोक मिश्र 'क्लाउन' ने Clown Times TV यूट्यूब चैनल और डिजिटल मीडिया पर लोगों से मदद की अपील किया तो दर्जनों लोगों ने आगे हाथ बढ़ाया और लेखों रुपये की मदद मिल गई फोटोग्राफर विजय सिंह को ।

जिनमें हिंदुस्तान के संपादक रजनीश त्रिपाठी, जागरण हल्द्वानी के समाचार संपादक राघवेंद्र चड्डा, उपजा के अध्यक्ष डॉ. अरविंद सिंह, UP बार काउंसिल के अध्यक्ष हरिशंकर सिंह, बनारस बार के उपाध्यक्ष अनुज यादव, चुन्ना राय सहित मालवीय मिशन के अध्यक्ष सुभाष सिंह , भैदैनी मिरर, ग्रामीण पत्रकार एशोसिएशन, रोटी बैंक आदि ने प्रमुख रहे।

क्लाउन टाइम्स की पहल पर उस दौरान ओमेगा प्लस हॉस्पिटल के डॉ. कर्मराज सिंह, शुभम हॉस्पिटल के डॉ. प्रशांत सिंह व हेरिटेज इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के डॉ. सिद्धार्थ राय की मदद को भुलाया नहीं जा सकता।

फोटोग्राफर विजय सिंह वर्षों तक सन्मार्ग हिंदी दैनिक के मान्यता प्राप्त फोटोग्राफर रहे. अपने सफेद बालों के चलते लोग इन्हें एक नजर में देखते ही पहचान जाते थे और आवाज लगाते थे का विजय भैया”. जिन्हें संकट मोचन मन्दिर के महंत स्व. वीरभद्र मिश्र का भी आशीर्वाद मिलता रहा और वर्तमान महंत प्रो.विश्वभरनाथ मिश्र भी उन्हें उतना भी स्नेह व आशीर्वाद देते रहे हैं।


आज विजय सिंह के निधन से बनारस के प्रेस फोटोग्राफी जगत का एक सितारा खो दिया है।

जब विजय सिंह अपने दुर्दिन को यादकर क्लाउन टाइम्स से बातचीत के दौरान ऐसा क्या था कि फफककर रो पड़े...
देखिए इस वीडियो को और आप भी रो पड़ेंगे....

 

क्लाउन टाइम्स परिवार और वाराणसी प्रेस क्लब ने प्रेस फोटोग्राफर विजय सिंह के निधन पर कर्णघण्टा स्थित कार्यालय पर एक शोक सभा का आयोजन किया, सभी जिसमें सभी ने प्रख्यात छायाकार विजय सिंह की स्मृतियों को याद किया साथ ही ईश्वर से प्रार्थना किया कि मृत आत्मा को शांति प्रदान करें। अंत में सभी ने दो मिनट का मौन रखा।

शोक सभा में शामिल होने वालों में वाराणसी प्रेस क्लब के अध्यक्ष राजेश गुप्ता, उपाध्यक्ष गिरीश दुबे, महामंत्री अशोक मिश्र 'क्लाउन', वरिष्ठ पत्रकार अमिताभ भट्टाचार्य डॉ. श्रीकांत तिवारी
आदि लोग शामिल रहे ।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग