MENU

पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह का कोरोना से निधन



 06/May/21

राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह का निधन हो गया है। वह कोरोना संक्रमित थे और मंगलवार रात से ही उनकी हालत नाजुक बताई जा रही थी। वह गुरुग्राम के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती थे। फेफड़ों में संक्रमण बढ़ने के कारण उनकी हालत नाजुक हो गई। वह 20 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हुए थे।
अजित सिंह के बेटे और पूर्व सांसद जयंत चौधरी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट ट्विटर पर इसकी जानकारी देते हुए लिखा, 'चौधरी साहब नहीं रहे।' जयंत ने बताया कि अजित सिंह 20 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हुए थे और 6 मई की सुबह उन्होंने इस बीमारी से लड़ते हुए दम तोड़ दिया।

'आखिरी समय तक संघर्ष करते रहे चौधरी साहब'
जयंत ने लिखा, 'अंतिम समय तक भी चौधरी साहब संघर्ष करते रहे। जीवन पथ पर चलते हुए चौधरी साहब को बहुत लोगों का साथ मिला। ये रिश्ते चौधरी साहब के लिए हमेशा प्रिय थे। चौधरी साहब ने आप सबको अपना परिवार माना और आप ही के लिए हमेशा चिंता की।' जयंत चौधरी ने आगे लिखा, 'इस दुख और महामारी के काल में हमारी आप से प्रार्थना है कि अपना पूरा ध्यान रखें, संभव हो तो अपने घर पर रहें और सावधानी जरूर बरतें

पीएम मोदी ने दी अजित सिंह को श्रद्धांजलि
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अजित सिंह किसानों के प्रति समर्पित नेता थे। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है। वे हमेशा किसानों के हित में समर्पित रहे। उन्होंने केंद्र में कई विभागों की जिम्मेदारियों का कुशलतापूर्वक निर्वहन किया। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं। ओम शांति!'

राहुल गांधी ने अजित सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी अजित सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'राष्ट्रीय लोक दल प्रमुख अजित सिंह जी के असमय निधन का समाचार दुखद है। उनके परिवार और प्रियजनों को मेरी संवेदनाएं।'

जमीन से जुड़े नेता थे अजित सिंह : राजनाथ सिंह
केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अजित सिंह को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने ट्वीट किया, 'चौधरी अजित सिंह के निधन का समाचार बेहद पीड़ादायक हैं। अपने लम्बे सार्वजनिक जीवन में वे हमेशा जनता और जमीन से जुड़े रहे। साथ ही किसानों, मजदूरों एवं अन्य निर्बल वर्गों के हितों के लिए संघर्ष भी करते रहे। उनके शोकाकुल परिवार और समर्थकों के प्रति मेरी संवेदनाएं।ॐ शान्ति!'

अजित सिंह का निधन अपूर्णीय क्षति : प्रियंका गांधी
अजित सिंह के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए प्रियंका गांधी ने लिखा, 'लोकप्रिय नेता, पूर्व केंद्रीय मंत्री व किसान हितैषी नेता श्री चौधरी अजित सिंह जी के निधन की दुखद खबर मिली। चौधरी साहब के निधन से समाज एवं राजनीति को अपूर्णीय क्षति हुई है। जयंत चौधरी और आरएलडी साथियों के प्रति मेरी गहरी शोक संवेदनाएं। ईश्वर चौधरी साहब को श्रीचरणों में स्थान दें।'

अजित सिंह को बताया किसानों का मसीहा : अखिलेश यादव
सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी अजित सिंह के निधन पर शोक जाहिर किया। उन्होंने ट्वीट किया, 'किसानों और मजदूरों के मसीहा, पूर्व केंद्रीय मंत्री, आरएलडी प्रमुख चौधरी अजीत सिंह जी का आकस्मिक निधन, अपूरणीय क्षति। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को दुख की इस घड़ी में संबल प्रदान करे। अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि।'

अजित सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया : मायावती
बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया, 'राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं पूर्व सांसद तथा अपने समाज के लोकप्रिय नेता चौधरी अजित सिंह के निधन की खबर अति-दुःखद। उनके परिवार व उनके समस्त चाहने वालों के प्रति मेरी गहरी संवेदना। कुदरत उन सबको इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे।'
बागपत से 6 बार सांसद रहे अजित सिंह
पूर्व प्रधानमंत्री और किसान नेता चौधरी चरण सिंह के बेटे अजित सिंह बागपत से 6 बाद सांसद और कई बार केंद्र में मंत्री रह चुके हैं। 2001 से 2003 तक अटल बिहारी सरकार में वह कृषि मंत्री और 2011 में यूपीए सरकार के तहत नागरिक उड्डयन मंत्री रह चुके हैं। 2019 लोकसभा चुनाव में उन्होंने मुजफ्फनगर से चुनाव लड़ा था लेकिन हार झेलनी पड़ी थी। पश्चिमी यूपी में चौधरी अजित सिंह जाटों के बड़े नेता माने जाते थे।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग