MENU

बरेका निर्मित 3000 एचपी केप गेज रेल इंजन मोजांबिक को निर्यात हेतु रवाना



 09/Jun/21

बरेका महाप्रबंधक अंजली गोयल के कुशल नेतृत्व एवं दिशा निर्देशन में बरेका परिसर में शुरुआत में कोविड पॉज़िटिव की ऊंची दर से निपटने में अधिकारियों,कर्मचारियों एवं कर्मचारी परिषद के सदस्यों की टीम भावना ने अनुकरणीय सफलता दर्ज की। इस टीम की कार्य प्रणाली और मेडिकल टीम के समर्पित देखभाल से दूसरी लहर में 20% से अधिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के कोविड से प्रभावित होने के बावजूद बरेका ने कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करते हुए उत्पादन कार्य जारी रखा। इस दौरान जो कर्मचारी डवल वेक्सिन ले चुके थे एवं जिस कर्मचारी को कोविड हो चुका था उसके स्वस्थ होने के उपरांत पुनः दृढ निश्चसय एवं सावधानी से कार्य करते रहे, जिससे कि हम एक्सपोर्ट ऑर्डर को न केवल समय से पूरा कर पा रहे है बल्कि इस अवधि (अप्रैल-मई 2021) में पिछले वर्ष के 8 रेल इंजनों के उत्पादन की तुलना में 34 विद्युत रेल इंजन एवं मोज़ाम्बिक निर्यात के लिए तीसरे डीजल रेल इंजन का उत्पादन किया गया, जिसे मोजांबिक को भेजा जा रहा है। मोज़ाम्बिक निर्यात हेतु चौथा रेल इंजन भी बनकर लगभग पूरी तरह से तैयार है जिसकी टेस्टिंग की जा रही है, इसे भी जल्द ही मोजांबिक के लिए रवाना कर दिया जाएगा। बरेका इस विपरित परिस्थितियों में भी अपना टारगेट पूरा करने के साथ-साथ एक्सपोर्ट ऑर्डर को भी समय से पूरा करने के लिए दृढ संकल्पित है। इससे बरेका ही नहीं बल्कि पूरे भारत की प्रतिष्ठा बढ़ेगी तथा मेक इन इंडिया कार्यक्रम को और बढ़ावा मिलेगा ।

उल्लेखनीय है कि मोजांबिक सरकार से 3000 एचपी केप गेज के 06 अत्याधुनिक तकनीक के रेल इंजनों का निर्यात आदेश बरेका को प्राप्त हुआ था। विगत 10 मार्च, 2021 को 3000 एचपी केप गेज मोजांबिक को निर्यात हेतु 02 रेल इंजन को हरी झंडी दिखाकर केंद्रीय रेल, वाणिज्य और उद्योग और उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री, श्री पीयूष गोयल एवं श्री जनेफर अब्दुलई परिवहन और संचार मंत्री, मोजाम्बिक सरकार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रवाना किया था। शेष अन्य 02, पांचवा व छठा इंजन भी शीघ्र बनाकर एक्सपोर्ट ऑर्डर को समय से पूरा कर लिया जाएगा।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग