MENU

एनडीआरएफ ने बीच मझधार नदी में फँसे सौ से अधिक लोगों को बचाया



 18/Jun/21

जिला कुशीनगर के ग्राम पंचायत अमवाखास के बरवापट्टी घाट के सामने बृहस्पतिवार की शाम लगभग सात बजे मोटर चालित एक नाव में सवार करीब डेढ़ सौ लोग गंडक नदी की धारा में फंस गए । अमवा खास व आसपास के गांवों के लोगों की खेती नदी के उत्तर की ओर भी है । जहाँ खेतों में गए लोग नाव से नदी पार करके वापस बरवापट्टी की तरफ लौट रहे थे I इसी बीच नाव का इंजन खराब हो गया और नाव धारा के साथ बहने लगी और ऐसी जगह पर जाकर फस गई जहां से लोगों का निकालना बहुत ही मुश्किल हो गया I प्रशासन के द्वारा स्थानीय संसाधनों द्वारा रेस्क्यू करने का भरसक प्रयास किया गया परंतु सफलता नहीं मिली I

जिसके चलते बिना समय गवाए जिलाधिकारी कुशीनगर के द्वारा घटना की सूचना 11वीं वाहिनी एनडीआरएफ वाराणसी, कंट्रोल रूम को देर रात दी गई I जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए मनोज कुमार शर्मा कमान्डेंट 11 एनडीआरएफ के दिशा निर्देश में गोरखपुर स्थित क्षेत्रीय प्रतिकिया केंद्र से एनडीआरएफ की टीम उप सेनानायक पी.एल.शर्मा के नेतृत्व में घटना स्थल के लिए रवाना हुई I मध्यरात्रि में 110 किलोमीटर का सफर तय कर टीम रात ढाई बजे बरवापट्टी घाट पहुंची I लेकिन आधी रात में घनघोर अँधेरे व नदी तट तक रास्ता ना होने के कारण टीम के लिए वहाँ तक पहुंचना चुनौतीपूर्ण कार्य था I लेकिन एनडीआरएफ के जाबाज़ बचावकर्मियों ने सभी चुनौतियों का सामना करते हुए भारी भरकम मोटर बोटों को अपने कंधों पर उठाया और अँधेरे में कंटीली झाड़ियों के बीच से एक किलोमीटर का रास्ता बनाते हुए घटना स्थल के नजदीक तट के किनारे पहुंचे और तुरंत बचाव अभियान शुरू किया । इस अभियान में किसी भी तरह की छोटी सी चूक जन हानि में बदल सकती थी I रात भर चले चुनौतीपूर्ण व दुरूह बचाव अभियान को सुबह आठ बजे तक पूरा कर लिया गया I यहाँ उल्लेख करना आवश्यक है कि इस अभियान में किसी भी तरह की जान व माल की हानि के बिना सभी फँसे हुए लोगों को व पशुओं को सुरक्षित निकला गया I एनडीआरएफ की टीम ने अपनी जान की परवाह किये बिना दक्षतापूर्ण तरीके से 112 लोगों को तेज़ धारा में बहने से बचा लिया I जिसमें 62 पुरुष, 31 महिलाएं, 19 बच्चे शामिल थे और इसके साथ ही 14 पशुधन, बकरियों को भी बचाया गया I मौके पर मौजूद एसडीआरएफ टीम और स्थानीय लोगों ने भी बचाव अभियान में अपना योगदान दिया I प्रशासन की चुस्ती और एनडीआरएफ की त्वरित कार्यवाही के कारण सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया I जिला प्रशासन और स्थानीय लोगों द्वारा एनडीआरएफ के इस साहसिक कार्य की खूब प्रशंसा की गयी I

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग