MENU

यूपी के जिला अध्यक्ष चुनाव में भाजपा ने परचम लहराया



 03/Jul/21

उत्‍तर प्रदेश के जिला पंचायत चुनाव में 53 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष पद की कुर्सी पर भाजपा ने कब्‍जा जमा कर सपा नेताओं के हौसले पस्‍त किये। पूरे प्रदेश में मतगणना लगभग समाप्‍त हो चुकी है। अभी हाल ही में संपन्‍न हुए जिला पंचायत के चुनाव में जहा एक ओर भाजपा के मुकाबले सपा ने अधिकांश सीटों पर जीत का डंका बजाया था वहीं जिला पंचायत अध्‍यक्ष के चुनाव में भाजपा की चुनावी रणनीति के आगे सपा के सभी दिग्‍गज नेता चारों खाने चित हो गये।

अब तक प्राप्‍त खबरों के अनुसार आधी से ज्यादा सीटों पर भाजपा ने जीत का डंका बजाया है। खबर है कि सोनिया गांधी के गढ़ रायबरेली की सीट पर भाजपा प्रत्याशी रंजना चौधरी ने कांग्रेस प्रत्याशी आरती सिंह को आठ वोटों से पराजित कर जीत का डंका बजाया है। वहीं सपा के गढ़ मैनपुरी में भी बीजेपी प्रत्याशी ने परचम लहराया है। बुंदेलखंड में भी भाजपा ने सातों सीटों अपना कब्‍जा जमा लिया है। खबर है कि 7 सीटों में से 4 पर भाजपा के निर्विरोध प्रत्याशी चुनाव जीते। बाकी 3 सीटें भी भाजपा ने कब्जा लीं। देवरिया जिला पंचायत अध्यक्ष सीट पर पहली बार भाजपा ने जीत दर्ज की है। जिला पंचायत चुनाव को सपा 2022 में होने वाले विधान सभा चुनाव के सेमीफाइनल के रुप में देख रही थी लेकिन जीला पंचायत अध्‍यक्ष के चुनाव में अभी तक केवल यूपी के 3 जिलों में सपा उनके प्रत्याशियों के जीतने की खबर आने से मायूसी छा गयी है। बलिया, एटा और आजमगढ़ में सपा ने जिला अध्यक्ष की कुर्सी पर कब्‍जा जमाया है। सपा के राष्‍ट्रीयध्‍यक्ष अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में सपा ने एकतरफा जीत दर्ज कर सपा की लाज बचायी है। ज़िला पंचायत अध्यक्ष पद पर सपा के विजय यादव 79 वोटों से जीते। भाजपा प्रत्याशी संजय निषाद को 5 वोट मिले।

ताजा अपडेट :

बुंदेलखंड की 7 सीटों पर भाजपा ने कब्जा जमाया है। 7 में से 3 सीटों पर मतदान हुआ था। जबकि 4 सीटों पर निर्विरोध जिला पंचायत अध्यक्ष चुने गए।

सोनिया गांधी के गढ़ रायबरेली में भाजपा प्रत्याशी रंजना चौधरी ने कांग्रेस प्रत्याशी को आठ वोटों से हरा दिया। भाजपा प्रत्याशी को 30 तो कांग्रेस प्रत्याशी आरती सिंह को 22 वोट मिले हैं।

लखनऊ में भाजपा की आरती ने 14 मत पाकर सपा की विजय लक्ष्मी को हरा कर जिला पंचायत अध्‍यक्ष चुनी गयी

सिद्धार्थनगर जिले में भी भाजपा की शीतल सिंह बनी जिला पंचायत अध्यक्ष। यहां भाजपा प्रत्याशी ने सपा की पूजा यादव को हराया

जौनपुर से बाहुबली नेता धनंजय सिंह की पत्नी ने बीजेपी ने समाजवार्दी पार्टी की प्रत्‍याशी को हरा कर जिला पंचायत अध्यक्ष बनी हैं।

बस्ती में भाजपा के संजय चौधरी ने सपा के वीरेंद्र चौधरी को हराकर जिला पंचायत अध्‍यक्ष बने।

ब्रज में 5 सीटों पर भाजपा का कब्जा। एक पर सपा ने जीत का परचम फहराया है। आगरा में भाजपा की डॉ. मंजू भदौरिया पहले ही निर्विरोध निर्वाचित हुई हैं। मथुर में भाजपा के किशन सिंह ने रालोद के राजेंद्र सिकरवार को हराया। फिरोजाबाद में भाजपा की हर्षिता सिंह ने सपा की रुचि यादव को हराया। मैनपुरी में भाजपा की अर्चना भदौरिया ने सपा की मनोज यादव को हराया। एटा में सपा की रेखा यादव ने भाजपा की विनीता यादव को हराया। कासगंज में भाजपा के रत्नेश कश्यप ने सपा की समर्थ यादव को हराया।

मिर्जापुर में भाजपा के राजू कनौजिया 36 मतों से विजयी घोषित किए गए। भाजपा उम्मीदवार को 40 मत मिले। वहीं सपा की आशा गौतम को मात्र 4 मतों से संतोष करना पड़ा।

चंदौली में भाजपा प्रत्याशी दीनानाथ शर्मा जिला पंचायत अध्यक्ष बने। दीनानाथ शर्मा को 30 वोट मिले और सपा के तेजनारायण यादव मात्र 05 वोट पर ही सिमट गये। सूबे में पहली बार योगी सरकार के नेतृत्‍व में जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर इतनी बड़ी कामयाबी से भाजपा खेमे में खुशी का माहौल है लोग एक दूसरे को जीत की बधाईयां दे रहे है।

भदोही के भाजपा विधायक रविन्द्र त्रिपाठी के भाई अनिरुद्ध त्रिपाठी जीते। उन्हें 20 मत मिले। भाजपा की ओर से मैदान में उतरे अमित सिंह को 4 वोट मिले।

सोनभद्र में भाजपा समर्थित अपना दल की राधिका पटेल जीतीं। उनको 19 और सपा के जय प्रकाश को 12 मत मिले। पहली बार अपना दल ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर कब्जा जमाया।

बलिया में सपा प्रत्याशी आनन्द चौधरी की जीत। सपा को 33 और भाजपा प्रत्याशी सुप्रिया को 24 वोट मिले।

कासंगंज में भाजपा की समर्पित उम्मीदवार रत्नेश कशयप विजयी घोषित हुए। रत्नेश कश्यप को मिले 14 मत। सपा के उम्मीदवार समर्थ यादव को 9 वोट मिले।

अलीगढ़ में भाजपा प्रत्याशी विजय सिंह 30 वोटों से जीतीं। विजय सिंह को 38 वोट मिले। जबकि सपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशी अर्चना यादव को 8 वोट से ही संतोष करना पड़ा।

भाजपा ने समाजवादी किले में लगाई बड़ी सेंध। भाजपा को मिले 18 वोट, सपा के खाते में 11 वोट।

बरेली में जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर भाजपा का कब्जा। भाजपा की रश्मि पटेल ने सपा की विनीता गंगवार को हराया। भाजपा को 40 तो समाजवादी पार्टी को 19 वोट मिले।

हाथरस में सीमा उपाध्याय बनीं जिला पंचायत अध्यक्ष। प्रतिद्वंदी शशि को दो वोटों से हराया। सीमा को मिले 13 वोट।

मथुरा में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के राष्ट्रीय लोक दल प्रत्याशी राजेंद्र सिंह सिकरवार ने मतदान में धांधलेबाजी का आरोप लगाया है। उन्होंने मांट के बसपा विधायक पंडित श्याम सुंदर शर्मा के पुत्र ललित शर्मा पर दो महिला सदस्यों के वोट डालने के आरोप लगाया, मतदान में धांधली का आरोप लगाते हुए रालोद कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट के गेट पर काफी देर तक नारेबाजी की। हालांकि बाद में पुलिस अधिकारियों ने उन्हें समझा-बुझाकर शांत कराया।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

Can't read the image? click here to refresh.



सबरंग