MENU

विदेशी धरती मोजाम्बिक में बनारस रेल इंजन कारखाना द्वारा निर्मित केप गेज डीजल इंजनों को मोजाम्बिक के राष्ट्रपति ने दिखाई हरी झंडी



 12/Feb/22

विदेशी धरती मोजाम्बिक में बनारस रेल इंजन कारखाना द्वारा निर्मित निर्यात किए गए केप गेज डीजल इंजनों को मोजाम्बिक के महामहिम राष्ट्रपति ने ज़िम्बाब्वे के महामहिम राष्ट्रपति की उपस्थिति में हरी झंडी दिखाकर बड़े ही धूम-धाम से राष्ट्र को समर्पित किया गया। बरेका को मोजाम्बिक के साथ उनके आर्थिक विकास को बढ़ाने के लिए साझेदारी करने पर गर्व है। वर्तमान में इन 3000 उच्च अश्वशक्ति लोकोमोटिवों को वर्तमान में कोयला खदानों से कोयला ढोने के लिए 43 वैगनों के माध्यम से 3561 टन कोयले को बीरा बंदरगाह तक ले जाने के लिए संचालन किया गया। महाप्रबंधक अंजली गोयल ने बताया कि आत्मानिर्भर भारत की भावना के तहत इस केप गेज डीजल लोकोमोटिव को बनाया गया है जिसे भारत में ही डिज़ाइन किया गया, भारत में ही निर्मित और भारत द्वारा ही वित्तपोषित है।

इस केप गेज लोकोमोटिव को विशेष तौर पर मोजाम्बिक को निर्यात हेतु बनाया गया। यह निर्यात आदेश बनारस रेल इंजन कारखाना डीजल इंजन निर्माण के लिए छह दशकों के बीएलडब्ल्यू की विशेषज्ञता को दर्शाता है। भारतीय रेल का विशिष्ट उत्पादन इकाई बरेका लोकोमोटिव निर्माण कर आत्मनिर्भर भारत में अपना विशेष योगदान दे रहा है।

इस केप गेज लोकोमोटिव ऑर्डर से बरेका भारत को अफ्रीका में केप गेज इंजनों के बाजार में प्रवेश करने में मदद मिलने की उम्मीद है, जहां एक व्यापक केप गेज नेटवर्क है। इस निर्यात से बनारस रेल इंजन कारखाना मल्टी ट्रैक्शन, मल्टी गेज सिस्टम के लिए लोकोमोटिव और पुर्जों के अलावा प्रौद्योगिकी प्रशिक्षण और रखरखाव सहायता की निर्यात सेवाएं प्रदान कर सकता है।

मेक इन इंडिया को बल -

इन हाउस डिजाइन किया गया यह लोकोमोटिव एसी-एसी ट्रैक्शन सिस्टम के साथ बनाया गया बरेका का पहला केप गेज लोको है। इस लोको में 20 टन के अधिकतम एक्सल लोड के साथ नई डिजाइन केप गेज बोगी है और 100 किमी/घंटा की गति के लिए सक्षम है। एसी-एसी ट्रैक्शन सिस्टम, ट्रैक्शन अल्टरनेटर, ट्रैक्शन मोटर, टर्बो, वाटर क्लोसेट विशेष रूप से मोजाम्बिक के लिए बरेका ने इन हाउस डिजाइन किए हैं।

बरेका द्वारा निर्मित इस इंजन की सबसे महत्वपूर्ण वस्तु यानी क्रैंक-केस असेंबली को बरेका में इन-हाउस विकसित किया गया है।

घरेलू उद्योग में क्षमता निर्माण :

भविष्य के निर्यात के लिए कई निजी और सार्वजनिक क्षेत्र की संस्थाओं की क्षमताओं को बढ़ाया गया है। बरेका ने टर्बो-सुपरचार्जर असेंबली, ट्रैक्शन मोटर और अल्टरनेटर, ट्रैक्शन प्रोपल्शन सिस्टम, फ्यूल टैंक, कंप्रेसर आदि जैसे सब-असेंबली के लिए कई सार्वजनिक / निजी आपूर्तिकर्ताओं के साथ साझेदारी करने के लिए सहयोग और मार्गदर्शन दिया है।

निर्यात किए गए लोकोमोटिव की विशेषताएं :

यह लोकोमोटिव लेवल ट्रैक पर 2255 टन के साथ 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से और 400 न्यूटन के अधिकतम ट्रैक्टिव एफर्ट में सक्षम है।

इस लोकोमोटिव का चालक केबिन ध्वनि कंपन और कठोरता मानक के अनुरूप बनाया गया है जिससे बहुत कम ध्वनि, एर्गोनॉमिक रूप से डिज़ाइन की गई आरामदायक सीटें, एकीकृत ग्राफिक ड्राइवर डिस्प्ले है और बेहतर चालक दल के आराम और थकान को कम करने के लिए हीटिंग वेंटिंग एसी भी प्रदान की गयी है।

सुविधाओं में ऑन बोर्ड वाटर-क्लोसेट शौचालय मॉड्यूल, रेफ्रिजरेटर और हॉट प्लेट शामिल हैं।

राइट हैंड ड्राइव के लिए नया कंट्रोल कंसोल डिजाइन विकसित किया गया है।

उच्चतम सुरक्षा मानकों, विश्वसनीयता और रखरखाव को सुनिश्चित करने के लिए कंप्यूटर नियंत्रित ब्रेक सिस्टम सीसीबी 2.0 से लैस।

लंबे समय तक संचालन के लिए 6000 लीटर का बड़ा ईंधन टैंक।

संक्षरण प्रतिरोध सुनिश्चित करने के लिए स्टेनलेस स्टील पाइप का उपयोग किया गया है।

मोजाम्बिक रेलवे द्वारा नियुक्त एक अंतर्राष्ट्रीय निरीक्षण एजेंसी मेसर्स ब्यूरो वेरिटास, नोएडा ने बरेका में मोजाम्बिक इंजनों का चरणबद्ध निरीक्षण किया।

बरेका ने भविष्य के लिए निर्यात को ध्यान में रखते हुए ब्रॉड गेज, स्टैंडर्ड गेज और केप गेज के लिए दिसंबर 2020- फरवरी 21 के दौरान ही फिट ब्रिज के साथ एक नया गिट्टी रहित ट्रैक विकसित कर लिया था।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

6308


सबरंग