MENU

उ.प्र. अग्निशमन विभाग और वाराणसी होटलियर्स एसोसिएशन द्वारा अग्नि सुरक्षा संबंधित ट्रेनिंग प्रोग्राम का हुआ आयोजन



 22/Sep/22

अंधरापुल स्थित होटल रीजेंसी में बृहस्पतिवार को उ.प्र. अग्निशमन विभाग और वाराणसी होटलियर्स एसोसिएशन द्वारा अग्नि सुरक्षा संबंधित ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया। इस प्रोग्राम में सीएफओ अनिमेष सिंह मुख्य अतिथि रहे तथा हेड कॉन्स्टेबल चंद्रमा कुशवाहा, ड्राइवर मिथिलेश यादव, कॉन्स्टेबल सिद्धार्थ शंकर राय एवं अवधेश यादव साथ रहे, इस दौरान अनिमेष सिंह ने बनारस के सभी होटलियर्स को अग्नि सुरक्षा उपकरणों और उनका इस्तेमाल करना सिखाया। अनिमेष सिंह ने ट्रेनिंग प्रोग्राम में आए हुए सभी होटलों के प्रतिनिधियों को आग लगने की दशा में प्रथम दृष्टया क्या कदम उठाया जाए और कैसे आग पर काबू पाया जाए इसके उपाय बताएं, जिससे कि किसी भी होटल में आग लगने की स्थिति में किसी भी तरह की जान माल की हानि ना हो, और आने वाले समय में किसी भी तरह की होने वाली दुर्घटना से बचा जा सके। उन्होंने सभी होटलों से आग्रह किया कि जिस प्रकार एरोप्लेन में एयर होस्टेस फ्लाइट से पहले सभी यात्रियों को प्रशिक्षण देती है की आपातकालीन स्थिति में किस प्रकार अपनी जान की रक्षा करनी है, उसी प्रकार सभी होटल अपने यहां आने वाले सभी आगंतुकों को होटल में चेकिंग करते समय अपने होटल के इमरजेंसी एग्जिट और फायर सेफ्टी उपकरणों के बारे में अवगत कराएं, क्योंकि होटल में ठहरने वाले आगंतुक होटल के स्ट्रक्चर से बिल्कुल अनभिज्ञ होते हैं और किसी भी तरह की आपातकाल की स्थिति में घबरा जाते हैं और बाहर नहीं निकल पाते जिससे कि उनके दम घुटने से मृत्यु हो जाती है। इस ट्रेनिंग प्रोग्राम मे यह भी बताया गया कि प्रकार होटलों के मालिक एनओसी लेते वक्त सभी मानदंडों का पालन करते हैं, पर एनओसी मिलने के बाद वह अपने होटलों में कुछ ना कुछ बदलाव करते हैं, जो कि आपातकालीन स्थिति में होटल में ठहरने वाले सभी लोगों के लिए जानलेवा साबित होता है, इसके लिए उन्होंने हाल ही में घटित हुई लखनऊ की घटना का भी उदाहरण दिया। उन्होंने सभी को यह भी बताया किस प्रकार आग लगने की दशा में सभी की जान बचाई जा सकती है, और क्या-क्या तरीके अपनाए जा सकते हैं जिससे कि किसी की भी जान ना जाए। इसके पश्चात अग्निशमन सुरक्षाबलों ने दमकल और अन्य अग्नि सुरक्षा यंत्रों के माध्यम से सभी प्रतिनिधियों को आग से बचने की प्रैक्टिकल कला सिखाई और बताया की आपातकालीन स्थिति में कैसे इन यंत्रों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

इस ट्रेनिंग प्रोग्राम का प्रतिनिधित्व सीए विजय प्रकाश जनरल सेक्रेटरी है वाराणसी होटलियर्स एसोसिएशन ने किया। सीए विजय प्रकाश और राम पांडे जीएम होटल रीजेंसी ने अनिमेष सिंह को स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया और इसी प्रकार ट्रेनिंग प्रोग्राम को समापन हुआ।

इस मौके पर प्रदीप कुमार सिंह, पं गोकुल शर्मा, अजय मिश्रा सहित अन्य लोग मौजूद थे।

 


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

8978


सबरंग