MENU

पुलिस कमिश्नरेट वाराणसी ने पुलिस मुठभेड़ में 2 बदमाशों को मौत के घाट उतारा



 21/Nov/22

लक्सा थाने के दरोगा को गोली मारकर लूटी गई 9 एमएम की पिस्टल से बदमाश चला रहे थे गोली : ए सतीश गणेश, पुलिस कमिश्‍नर

खबर है कि सोमवार को थाना बड़ागांव क्षेत्र में तड़के रिंग रोड पर हुई मुठभेड़ के दौरान वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच और बड़ागांव की पुलिस ने घेराबंदी किया था। इसी दौरान पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में दोनों तरफ से चली ताबड़तोड़ गोलियां से 2 बदमाश ढेर हो गए। बताते चलें कि वाराणसी के रिंग रोड पर शातिर बदमाशों के मूवमेंट को इंटरसेप्ट करने हेतु वाराणसी कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस की टीम ने घेराबंदी किया था। अपने को घिरता देख बेखौफ बदमाशों ने क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दिया। इसी दौरान क्राइम ब्रांच के आरक्षी शिव बाबू को बदमाशों की गोली निशाना बनाने में कामयाब हो गई। अपने साथी पुलिस को लगी गोली के जबाज में वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट के जांबाज जवानों ने भी जवाबी कार्यवाही में दो बदमाशों को अपनी गोली का शिकार बनाया लेकिन तीसरा बदमाश मौके का फायदा उठाकर भागने में कामयाब हो गया।

पुलिस की गोलियों से के शिकार दोनों घायल बदमाशों को समुचित इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बदमाशों के पास से एक 9MM और एक 32 बोर की पिस्टल बरामद हुई है, साथ ही एक काले रंग की मोटरसाइकिल और मोबाइल फोन के अलावा कुछ कागजात भी बरामद हुए हैं। मुठभेड़ की सूचना मिलते ही मौका ए वारदात के लिए फील्ड यूनिट सहित पुलिस कमिश्नर वाराणसी ए सतीश गणेश एडिशनल पुलिस कमिश्नर संतोष कुमार सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी रवाना हो गए।

खबर है कि बदमाशों के कब्जे से बरामद 9 एमएम की वही पिस्टल बरामद हुई है जिसे पिछले दिनों थाना रोहनिया में हौसला बुलंद बदमाशों ने थाना लक्सा के दरोगा अजय यादव को गोली मारकर लूट लिया था। कुल मिलाकर पुलिस कमिश्नरेट के जांबाज जवानों के द्वारा बदमाशों को मुठभेड़ के दौरान मौत की नींद सुलाना इस बात की गवाही है कि सूबे की योगी सरकार में अगर किसी बदमाश ने खाकी पर हमला करने की जुर्रत किया तो उसे खाक में मिला दिया जाएगा।
जैसा कि आज पुलिस कमिश्नर वाराणसी ए सतीश गणेश के नेतृत्व में लक्सा थाने के दरोगा की खाकी वर्दी पर गोली चलाने वाले बदामशों को पुलिस मुठभेड़ में मौत की नींद सुलाकर बदमाशों के बीच जहां पुलिस का खौफ पैदा हुआ है वही आम जनता के बीच बड़ा संदेश गया है।
आज की मुठभेड़ में इस बात का खुलासा तो हो गया कि मारे गए बदमाशों का नाम रजनीश उर्फ बऊआ और उसका भाई मनीष है जो बिहार के ग्राम गोलवा, थाना मोहद्दीनगर के जिला समस्तीपुर के रहने वाले हैं। तीसरा फरार इन्हीं बदमाशों का सगा भाई लल्लन है।
आज भी यह यक्ष प्रश्न काशी की जनता पुलिस कमिश्नरेट के आला अधिकारी पुलिस कमिश्नर वाराणसी ए सतीश गणेश से पूछ रही है लक्सा थाने के दरोगा अजय यादव को थाना रोहनिया में किसने गोली मारी, क्यों मारी अथवा किसने मरवाई, जब तक इस सवाल से पर्दा नहीं उठेगा तब तक दूध का दूध और पानी का पानी नहीं होगा।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

3748


सबरंग