MENU

CM योगी ने 13 जनवरी को विश्व के सबसे लंबे क्रूज गंगा विलास के फ्लैग आफ कार्यक्रम, जी-20 सम्मेलन से संबंधित तैयारियों की समीक्षा की



 08/Jan/23

राहगीरों, व्यापारियों, महिलाओं की पूरी सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता होना चाहिए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने एक दिवसीय वाराणसी दौरे पर रविवार को सर्किट हाउस में अधिकारियों के साथ बैठक कर 13 जनवरी को विश्व के सबसे लंबे क्रूज गंगा विलास के फ्लैग आफ कार्यक्रम, जी-20 सम्मेलन से संबंधित तैयारियों की समीक्षा की और इसके सफलतापूर्ण आयोजन के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने गंगा विलास क्रूज के फ्लैग आफ कार्यक्रम के संबंध में निर्देशित करते हुए कहा कि गंगा विलास वाराणसी, चंदौली, गाजीपुर, बलिया होते हुए बिहार की सीमा में प्रवेश करेगा। सभी जगह इसकी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होने चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि सभी जगहों पर पर्यटकों के स्वागत की भी व्यवस्था होनी चाहिए। पर्यटक जहां-जहां भी जाएं, वहां उन्हें एक साफ सुथरा माहौल मिले। वह जिस भी रोड पर जाए वहां अनावश्यक अतिक्रमण न हो। बनारस में आतिथ्य का एक अच्छा उदाहरण प्रस्तुत होना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने जी-20 शिखर सम्मेलन की बैठकों के संबंध में निर्देशित करते हुए कहा कि बैठक वाले स्थानों के रूट को अभी से देख लिया जाए। विशेषकर होटल ताज से टीएफसी पहुंचने के रास्ते को पूरी तरह से व्यवस्थित किया जाए। वेंडरों  के व्यवस्थित पुनर्वास पर भी ध्यान देना होगा। व्यापारियों के साथ बैठक करके संवाद बनाकर व्यवस्था का समाधान किया जाए। वरुणा नदी की रेलिंग जो वर्षा काल में  क्षतिग्रस्त हो गई थी, उसको यथाशीघ्र ठीक कराया जाए। सभी सड़कें अच्छी हो। उन्हें अनावश्यक खोदा न जाए। सभी विभाग समन्वय बनाकर काम करें। स्पीड ब्रेकर टेबल टॉप बनाना चाहिए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था के संबंध में निर्देशित करते हुए कहा की सुरक्षा का एक बेहतरीन माहौल होना चाहिए। कल एक महिला के साथ हुए दुर्व्यवहार पर उन्होंने पुलिस कमिश्नर से कार्यवाही की प्रगति के बारे में पूछताछ की और अपराधी पकड़े नहीं जाने पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि इस तरह के मामले में कड़ा एक्शन होना चाहिए, जो कि एक नजीर बने।मुख्यमंत्री ने कहा कि राहगीरों, व्यापारियों, महिलाओं की पूरी सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता होना चाहिए। उन्होंने ट्रैफिक की समस्या का स्थाई समाधान निकालने का भी निर्देश दिया।

लखनऊ में हो रहे ग्लोबल इन्वेस्टर सम्मिट  का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इससे पहले स्थानीय व्यापारियों को भी निवेश के लिए प्रेरित किया जाए। जनप्रतिनिधि व्यापारियों के साथ बैठक कर स्थानीय निवेश के लिए उन्हें प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि 13 जनवरी को गंगा विलास का फ्लैग आफ होगा। वाराणसी में कार्गो सेवा भी प्रारंभ होगी इससे संबंधित जो भी समस्याएं हैं उसे दूर किया जाए। काशी को एक्सपोर्ट हट के रुप में डेवलप किया जाए। टेंट सिटी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इससे बहुत से लोगों को रोजगार मिलेगा यह एक अच्छा प्रयास है। उन्होंने कहा कि जो भी इवेंट होने हैं उनकी तैयारी अभी से पूर्ण कर लिया जाए। सभी कार्य जनप्रतिनिधियों को विश्वास में लेकर किया जाए।     

बैठक के प्रारंभ में कमिश्नर कौशल राज शर्मा शर्मा ने G–20 के आयोजन से संबंधित जिला प्रशासन की तैयारियों को एक प्रेजेंटेशन के द्वारा प्रस्तुत किया इसके पश्चात उन्होंने 13 जनवरी को आयोजित आयोजित होने वाले दुनिया के सबसे लंबे क्रूज गंगा विलास फ्लैग आफ कार्यक्रम से संबंधित प्रस्तुतीकरण किया। इसके साथ ही उन्होंने  17 से 20 जनवरी तक होने वाले बैलून फेस्टिवल एवं बोट रेसिंग कार्यक्रम के संबंध में प्रस्तुतीकरण दी। एडीजी जोन द्वारा गंगा विलास क्रूज की यात्रा के दौरान उसकी सुरक्षा के व्यापक इंतजाम से संबंधित प्रस्तुतीकरण किया गया।

बैठक में जल संसाधन मंत्री स्वतंत्र सिंह कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, स्टांप एवं पंजीयन मंत्री रविंद्र जायसवाल, आयुष मंत्री दयाशंकर मिश्र 'दयालु,, परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्या, विधायक गण नीलकंठ तिवारी, सौरभ श्रीवास्तव, अवधेश सिंह, कमिश्नर कौशल राज शर्मा, जिलाधिकारी एस. राजलिंगम एवं सभी अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

9434


सबरंग