MENU

UP Board Result 2023 : अलहनीफ एजुकेशनल ग्रुप की जोया हयात ने मां-बाप का नाम किया रौशन, हाईस्कूल में किया जिला टॉप



 27/Apr/23

चन्दौली। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित हाईस्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा के परिणाम मंगलवार को आ गए। इस परीक्षा परिणाम में चन्दौली जिले से जोया हयात ने हाईस्कूल में सर्वाधिक अंक पाते हुए जिले में टॉप किया। जोया को कुल 94.60 प्रतिशत अंक मिले हैं। जोया के जिले में प्रथम आने से उनके विद्यालय सेंट अलहनीफ एजुकेशनल ग्रुप सेंटर के अध्यापकों और प्रधानाचार्य में खुशी की लहर दौड़ गयी। पड़ाव क्षेत्र के कटेसर गांव के रहने वाले शहाबुद्दीन आटो चलाते हैं। उनकी बेटी जोया हयात ने सेंट अलहनीफ से इंटर की परीक्षा में शानदार प्रदर्शन करते हुए जिले में पहला स्थान हासिल किया। हाईस्कूल की परीक्षा 2021 में भी जोया ने 83 फीसदी अंक हासिल किया था। घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के बाद भी अपनी मेहनत और लगन के बल पर जोया ने परचम लहराया है।

क्लाउन टाइम्स से बातचीत में जोया ने बताया कि उसके भाई अनस जब इंटर 2021 में 89 प्रतिशत अंक से पास हुए थे तभी उसने मन में ठान लिया था कि भाई से अधिक अंक इंटर की परीक्षा में लाने हैं। कोरोना काल में पढ़ाई बाधित होने के बाद भी स्कूल के अलावा घर पर वह कम से कम 5 - 6 घंटे अध्ययन करती थी। उसने अपनी सफलता का श्रेय मां अंसरी बेगम व पिता शहाबुद्दीन और गुरुजनों को दिया। उसने बताया कि वह आगे चलकर उच्च शिक्षा ग्रहण कर शैक्षणिक क्षेत्र में शिक्षक बनना उसका सपना है।

सफलता का श्रेय माता-पिता और गुरुजनों को

पड़ाव क्षेत्र के कटेसर गावं के रहने वाले आटो चालक शहाबुद्दीन के बेटी जोया हयात ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और गुरुजनों को दिया। जोया ने बताया कि परीक्षा की तैयारी के दौरान मेरा हर पल सहयोग मेरे माता-पिता और गुरुजनों ने किया, जिसका परिणाम आज दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि जितनी ख़ुशी आज मिली ऐसी कभी नहीं मिली थी।

बच्चों को अच्छी तालीम देने के लिए बनूंगी शिक्षक

जोया ने बताया कि उन्हें आगे चलकर शिक्षक बनना है। जोय के पिता आटो चलाते हैं और माता ग्रहणी हैं। जोया ने बताया कि जब मुझे यह पता चला कि मैंने टॉप किया है तो मुझे यकीन ही नहीं हुआ।

फेल होने वाले अभ्यर्थी घबराएं नहीं

जोया ने हाईस्कूल परीक्षा में फेल हुए परीक्षार्थियों को सन्देश देते हुए कहा कि लक्ष्य निर्धारित कर पढ़ाई करें। सफलता उनके कदम स्वयं चूम लेगी। उन्होंने बताया कि वह रोजाना बस पांच से छह घंटे ही पढ़ाई करती थी पर उनका लक्ष्य क्लियर था कि क्या करना है, कैसे करना है। उन्होंने कहा कि सफलता की कुंजी यही है कि आप अपना लक्ष्य निर्धारित कर लें।

विद्यालय में हुआ भव्य स्वागत

रिजल्ट आने के बाद विद्यालय पहुंचे जोया का सेंट अलहनीफ एजुकेशनल ग्रुप के चेयरमैन हाजी वसीम अहमद ने ने जोया को मिठाई खिलाकर मुबारकबाद दी। चेयरमैन हाजी वसीम अहमद ने बताया कि यह बहुत ही खुशी की बात है। जोया ने अपनी मेहनत से विद्यालय का नाम रौशन किया है। पढ़ाई के लिए हमेशा अध्यापकों ने उसका सहयोग किया और आज परिणाम सबके सामने है।


इस खबर को शेयर करें

Leave a Comment

6165


सबरंग